Kab Tak Humko Batoge

99

+ Rs. 70 Shipping charge

Description

मुझे पूर्ण विश्वास है कि हिंदी साहित्य पढ़ने में हम में से बहुतों को अत्यंत आनन्द का अनुभव होता है । हिंदी प्रेमियों का हरदम मन करता है कि नई हिंदी रचनाओं को पढ़ा और सुना जाये । मैंने अपने आस-पास जो देखा, महसूस किया, वही लिखा है । इस किताब की हर कविता, मुझे किसी न किसी घटना की याद दिलाती है । उदहारण के तौर पर, "हिन्दू की गीता" कविता मैंने दंगो से प्रेरित होकर लिखी है । मैंने इस किताब में ज़िंदगी के हर भाव को रखने की कोशिश की है, चाहे वो ज़िंदगी के दाँव-पेच हों, या धर्मों की नासमझी, वीर जवानो की गाथा हो या नई चुभन की व्यथा। मेरी कविता किसी भी धर्म और जाती के पक्ष या विपक्ष में नहीं है । मेरी कविता हर उस इंसान के लिए है जिसके लिए धर्म और जाति से ऊपर इंसानियत है । मेरी इस किताब में पिता की लोरी, शिक्षक का मान, सैनिकों से प्रेम, ज़िंदगी से बातचीत, धर्मों के बीच भाईचारा और जीवन भर साथ निभाने वाले दो दिलों की ख्वाइश है ।

Shipping Details

• Dispatch in 2 to 3 days

Share
Size Chart
loading
Redirecting you to secure checkout for OnlineGatha